Recent Posts

Powered by Blogger.

कैसे लिखें एक आकर्षक पोस्‍ट - How Write A Attractive Article

फारूक अब्‍बास। दोस्‍तो ब्‍लॉग बनानें के बाद एक समस्‍या सबसे ज्‍यादा यह आती है कि ब्‍लॉग पर विजी‍टर नही आते। दोस्‍तो ब्‍लॉग पर विजीटर लानें के लिये सबसे ज्‍यादा जरूरी है ब्‍लॉग का प्रचार। लेकिन उससे भी जरूरी है ब्‍लॉग पर आपकी लेखन शैली। आप कितना भी प्रचार करके विजीटर को अपने ब्‍लॉग तक ले अाइये लेकिन अगर आपकी भाषा शैली अच्‍छी नही होगी तो विजीटर आप के ब्‍लॉग पर रूकेगा ही नही और न ही भविष्‍य में फिर कभी आपके ब्‍लॉग पर आएगा। प्रमोशन से ज्‍यादा जरूरी है कि कुछ एेसा लिखो कि पाठक आपके ब्‍लॉग पर जमा रहे जब तक आपकी पूरी पोस्‍ट न पढ ले उसे छोडकर न जाऐं। तो आज हम चर्चा करेंगे कि कैसे एक अच्‍छी पोस्‍ट लिखी जाऐ। कैसे अपनी लेखन शैली सुधारी जाए।


1- कुछ भी लिखने से पूर्व उस विषय पर अच्‍छी जॉच पडताल कर लें। पूरी रिसर्च और जानकारी के बाद ही उस विषय पर पोस्‍ट लिखें। बिना जानकारी के पोस्‍ट लिखना बेकार है। क्‍योंकि जब कोई पाठक आपकी पोस्‍ट को पढनें के लिये आता है तो एक उम्‍मीद लेकर आता है। कि उसकी जरूरत की चीजें आपकी समझ में आऐं। आप की पोस्‍ट पढनें के बाद उसें किसी अन्‍य ब्‍लॉग या किसी दूसरे सोर्स पर भटकना न पडे। जो भी लिखों पहले उस के बारें मेें पूरी रिसर्च करो। कहीं ऐसा तो नही कि जो आपको पता है उससे भी नया अपडेट आया हो। अगर आप आधी अधूरी जानकारी दोगे तो वो ब्‍लॉगर के किसी काम की नही होगी और वो किसी दूसरे ब्‍लॉग पर चला जाऐगा। इसलिये कोशिश करो कि अगर कोई पाठक आपकी पोस्‍ट पढ रहा है तो उसमें पर्याप्‍त जानकारी हो उसे आपके ब्‍लॉग के अलावा किसी दूसरे ब्‍लॉग पर जानें की आवश्‍यकता न पढे। 


2- जिस भाषा  काे अाप जानते हो उसी भाषा में पोस्‍ट लिखें दूसरी भाषा में पोस्‍ट न लिखें अन्‍यथा अाप अपनी बात पूरी तरह से समझा नही पाओगे अौर पाठक उसको समझनें के लिये किसी दूसरी बेबसाइट का सहारा लेगा। कई बार होता है कि हम बनाबटी भाषा का प्रयोग करते हैैं। ब्‍लॉग लिखनें से पूर्व एक बात अच्‍छी तरह से समझ लें आप ब्‍लॉग लिख रहे हो व्‍याकरण का पेपर नही जो भाषा का खास ध्‍यान रखा जाऐ। यहॉ आपको पोपूलरिटी तभी मिलेगी जब आप अपनी बात पाठकों को अच्‍छे से समझा पाओगे। मैंने कुछ ब्‍लॉगर देखें हैं जो सधी व शुध्‍द भाषा का प्रयोग करते हैं। आप अपनें हिसाब से ऐसा लिखों कि कम शब्‍दों में पूरी बात समझ में आ जाऐ। ज्‍यादा बनाबटी भाषा लिखनें से काम खराब हो सकता हैै। पाठक भटक सकते हैं। सरल, सहल भाषा में लिखें ज्‍यादा कठिन या अप्रचलित शब्‍दों का प्रयोग न करें। प्रचलित भाषा में ही लिखनें का प्रयास करें। 


3- प्रत्‍येक पोस्‍ट में कम से कम एक फोटो का इस्‍तेमाल जरूर करें। फोटो अाकर्षक व उस पोस्‍ट से सम्‍बन्धित होना चाहिये। एक अच्‍छा फोटो आपके पूरे पोस्‍ट को दर्शा सकता है। इसलिये आपकी पोस्‍ट में कम से कम एक फोटो होना चाहिये। फोटो आपका मूल होना चाह‍िये। कहीं से चुराया गया फोटो ब्‍लॉग पर लगानेंं से बचें। फोटो आकर्षक होना चाहिये। 


4- किसी की पोस्‍ट को कॉपी करके अपने ब्‍लॉग पर न चिपकाऐं अन्‍यथा यह आपके किसी काम का ही नही बल्कि अापको भारी संकट में भी डाल सकता है। कुछ लोग दूसरों की पोस्‍ट को थोडा तोड मरोड कर प्रस्‍तुत कर देते हैं लेकिन यह तरीका भी सही नही हैं। ध्‍यान रखें विषय तो एक समान हो सकता है लेकिन कन्‍टेन्‍ट एक समान नही होना चाहिये। इसमें आपको कॉपी राइट क्‍लेम भी आ सकता है जिससे आपकी इनकम पर भी संकट आ जाऐगा। दूसरी बात आप एक नकलची ब्‍लॉगर्स कहलाऐ जाओगे। कभी कभी ब्‍लॉग्‍स को पढनें वाले पाठक शायद ये न समझ पाऐं लेकिन नियमित रूप से ब्‍लॉग पढनें वाले पाठक आसानी से समझ जाऐंगेें। इसके अलावा गूगल भी आपके ब्‍लॉग को कम रैंकिंग देगा जिससे आपके ब्‍लॉग पर सर्च इंजन से विजीटर लगभग न के बराबर ही आऐंंगें। 


5- सही रंगों व हैडिंग्‍स का उपयोग करें। उल्‍टी सीधी हैंडिंग्‍स या गलत रंग चयन आपको अनाडी साबित कर सकता हैै। टैक्‍ट्स का रंग अपने ब्‍लॉग की डिजायन के हिसाब से रखें। ऑखों में चुभनें वाले रंगों से परहेज करें। हैंडिंग्‍स का उपयोग जरूरत पढनें पर ही करें। बिना मतलब हर जगह हैंडिग्‍स का इस्‍तेमाल ने करें। इसके अलावा बेवजह लिंक का उपयोग न करें। इससे पाठक भटक जातें हैं और ब्‍लॉग छोड देते हैैं। एक पोस्‍ट में एक विषय पर पूरी पोस्‍ट लिखें किसी भी अन्‍य ब्‍लॉग या बेबाइट का बाहरी लिंक तभी दें जब उसकी जरूरत हो। वरना सारी सामग्री अपने ब्‍लॉग पर ही उपलब्‍ध कराऐं। इसके अलावा कोई भी भ्रमित करनें वाली पोस्‍ट न डालें यह कानूनी रूप से भी गलत है। अगर आप कानून से बच भी गये तो भी आपके ब्‍लॉग के लिये खतरनाक है।  अगर किसी विषय को एक पोस्‍ट में लिख पाना सम्‍भव नही हैं तो उसकी श्रंखलाबध्‍द पोस्‍ट लिखें अौर उनका लिंक पहले वाली पोस्‍ट में अवश्‍य दें। 


6- अगर एक सफल ब्‍लॉगर बनना हैं तो अपनें लेखन कौशल में सुधार लाना ही होगा। अगर आप की लेखनी अच्‍छी नही होगी तो आप पाठक के मान पर छाप नही छोड पाओगे। इसके लिये जरूरी है कि आप दूसरे अच्‍छे ब्‍लॉगर्स के ब्‍लॉग्‍स को पढें। क्‍योंकि ज्ञान हमेशा पढनें से मिलता हैै। उन ब्‍लॉगर्स से सीख लें। उनकी जा भी बातें आपको अच्‍छी व सहज लगती हों उनको ग्रहण करें। इसके आपके लेखन में निखार आयेगा । फिर आपको एक लोकप्रिय ब्‍लॉगर या लेखक बननें से कोई नही रोक सकता। NEXT

1 comment:

  1. आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन ’फागुनी बहार होली में - ब्लॉग बुलेटिन’ में शामिल किया गया है.... आपके सादर संज्ञान की प्रतीक्षा रहेगी..... आभार...

    ReplyDelete